Thursday, March 21, 2019

होली के दिन...

आप सभी को होली की शुभकामनाएं...
Song : Holi Ke Din Dil Khil Jaate Hain
Movie : Sholay (1975)
Lyricist : Anand Bakshi
Singer : SanyaShree, PBChaturvedi
Original Singer : Lata Mangeshkar-
Kishore Kumar
Music Director : Rahul Dev Burman


चाँद आहें भरेगा

प्रस्तुत है मेरी आवाज में ये मशहूर गीत जिसे मुकेश ने आवाज़ दी थी। इसका वीडियो आपको अवश्य पसन्द  आएगा, ऐसी आशा है...
गीत :- चाँद आहें भरेगा
फिल्म :- फूल बने अंगारे
मूल गायक :- मुकेश
गीतकार :- आनंद बक्शी
संगीतकार :- कल्यानजी-आनंद जी
 

रिमझिम के गीत...

आज हमारी ( प्रसन्नवदन एवं श्रीमती कंचनलता) शादी की सालगिरह भी है और मेरी बेटी शाम्भवी का जन्मदिन भी | इस अवसर पर प्रस्तुत है ये प्यार भरा नगमा जिसे आप अवश्य पसंद करेंगे, ऐसी आशा है....
Song : Rimjhim Ke Geet Saawan Gaaye
Movie : Anjaana (1969)
Cover Sung :  Mithu Bhattacharya and PBChaturvedi
Original Singers : Lata Mangeshkar and  Md. Rafi
Lyricist : Anand Bakshi
Music Director : Laxmikant Pyarelal


वसंत ऋतु के आगमन पर ये गीत...

वसंत ऋतु के आगमन पर प्रकृति-सौन्दर्य को प्रदर्शित करता ये नायाब गीत प्रस्तुत है...(कृपया पूरा वीडियो देखने का कष्ट करें, आपको अवश्य अच्छा लगेगा)
"Aane Se Uske Aaye Bahaar"
Cover Song Singer : PBChaturvedi
Movie : Jeene Ki Raah (1969)
 Lyricist : Anand Bakshi
Original Singer : Mohammad Rafi
Music Director : Laxmikant Pyarelal


चन्द्रकान्ता उपन्यास अध्याय-प्रथम, बयान-19

दोस्तों ! पं देवकीनंदन खत्री के प्रसिद्ध हिंदी जासूसी उपन्यास "चन्द्रकान्ता" के प्रथम अध्याय के उन्नीसवें बयान का वाचन प्रतिरूप प्रस्तुत है, यू-ट्यूब पर आपको ये लगातार धारावाहिक के रूप में सुनने को मिलेगा | आशा है आपको ये अवश्य पसंद आयेगा......
 
चन्द्रकान्ता उपन्यास,अध्याय-प्रथम, बयान-19
उपन्यासकार: पं देवकीनंदन खत्री
स्वर : कंचनलता चतुर्वेदी
 

चन्द्रकान्ता उपन्यास अध्याय-प्रथम, बयान-18

दोस्तों ! पं देवकीनंदन खत्री के प्रसिद्ध हिंदी जासूसी उपन्यास "चन्द्रकान्ता" के प्रथम अध्याय के अट्ठारहवें बयान का वाचन प्रतिरूप प्रस्तुत है, मेरे यू-ट्यूब चैनल पर आप इसको लगातार धारावाहिक के रूप में सुन सकते हैं | आशा है आपको ये अवश्य पसंद आयेगा......

चन्द्रकान्ता उपन्यास अध्याय-प्रथम, बयान-18
उपन्यासकार: पं देवकीनंदन खत्री
स्वर : प्रसन्नवदन चतुर्वेदी